COVID-19: यूपी के 74 जिलों में पहुंचा कोरोना, 24 घंटे में मिले 109 नए मरीज, अब तक 80 लोगों की मौत

corona arrives in 74 districts of up 109 new patients found in 24 hours

10 तक प्लस आगरा,Updated: Tue, 12 May 2020 07:13AM

सोमवार को बलिया व अम्बेडकर नगर जिलों को भी कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में ले लिया है।  इस तरह अब 75 में से 74 जिलों में कोरोना के मरीज पाए जा चुके हैं।  ललितपुर में  पिछली नौ मई को एक ही कोरोना मरीज संक्रमित पाया गया था। उसकी सोमवार को मौत हो गई। इस तरह प्रदेश में कोरोना संक्रमण से अब तक 80 मौतें हो चुकी हैं। कोरोना पॉजिटिव के 109 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें अकेले आगरा के ही 14 हैं। 

सोमवार को लखनऊ में कोई पॉजिटिव केस नहीं पाया गया। इस तरह अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 3573 तक पहुंच गई है। सोमवार को 105 मरीज ठीक होकर घर वापस चले गए। अब तक 1758 मरीज ठीक होकर घर वापस जा चुके हैं। अब तक तबलीगी जमात के 1184 मरीज संक्रमित पाए गए हैं।

बीते 24 घंटों में आगरा में 14 , गाजियाबाद में चार, नोएडा में छह, लखीमपुर में एक, वाराणसी में तीन, जौनपुर में तीन,बागपत में एक, मेरठ में 13 , बुलंदशहर में पांच, बस्ती में तीन, गाजीपुर में एक, हाथरस में 10, रायबरेली में एक, औरैया में तीन, बाराबंकी में पांच, सीतापुर में पांच, प्रयागराज में एक, मथुरा में दो, रामपुर में तीन, अमरोहा में एक, संभल में दो, कन्नौज में तीन, संतकबीरनगर में  एक, मैनपुरी में एक, गोंडा में छह, अलीगढ़ में दो, जालौन में एक,  झांसी में एक, कानपुर देहात में एक, सिद्धार्थनगर में दो,  फतेहपुर में एक, बलिया में एक और अम्बेडकरनगर में दो के साथ 109 मरीज कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं।

कोरोना वायरस की वजह से अब तक 80  मौतें हो चुकी हैं। अब तक हुई 80 मौतों में से सबसे ज्यादा आगरा में 24 हुई हैं। इसके बाद मेरठ  में 13 मौतें हुई हैं। मुरादाबाद में सात मौतें हुई हैं।  कानपुर में छह मौतें हुई हैं। मथुरा में चार मौत हुई हैं। फिरोजाबाद में चार और अलीगढ़ में तीन मौत हुई हैं। झांसी, नोएडा  और गाजियाबाद में दो-दो मौत हुई हैं। लखनऊ, अमरोहा, वाराणसी, बस्ती, बुलंदशहर,श्रावस्ती, बरेली, कानपुर देहात, मैनपुरी, बिजनौर, एटा, प्रयागराज और ललितपुर  में एक-एक मौत हुई है। 

सोमवार को 105 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं। अब तक  3573 संक्रमित मरीजों  में से  1758 ठीक होकर घर वापस चले गए हैं। इनमें आगरा के 326, लखनऊ  के 202, गाजियाबाद के 75, नोएडा के 135 , लखीमपुर के चार, कानपुर नगर के 94, पीलीभीत के चार, मुरादाबाद के 90, वाराणसी के 45, शामली के 27, जौनपुर के आठ, बागपत के 16, मेरठ के 66, बरेली के सात, बुलंदशहर के 51, बस्ती के 24,हापुड़ के 22, गाजीपुर के छह, आजमगढ़ के आठ, फिरोजाबाद के 89, हरदोई के दो, प्रतापगढ़ के छह, सहारनपुर के 150, शाहजहांपुर का एक, बांदा में तीन, महाराजगंज के छह,हाथरस के चार, मिर्जापुर के तीन, रायबरेली के 35, औरैया के 12, बाराबंकी का एक, कौशाम्बी के दो, बिजनौर के 26, सीतापुर के 21, प्रयागराज का चार, मथुरा के नौ, रामपुर के 20, बदायूं के 16, मुजफ्फरनगर के 19, अमरोहा के 26 , भदोही का एक,कासगंज के तीन, इटावा के दो, संभल के 13, उन्नाव का एक, कन्नौज के सात, संतकबीरनगर के 15, मैनपुरी के चार, गोंडा के  दो, मऊ का एक, एटा के तीन, सुलतानपुर का तीन, अलीगढ़ के 22 , श्रावस्ती के तीन, बहराइच के नौ, बलरामपुर का एक, अयोध्या का एक, और महोबा के दो हैं

10 tak plus

10तक प्लस एक दस्तक है जुर्म और अन्याय के खिलाफ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2020 10Tak Plus NEWS All rights reserved.Powered by SHEETALMAYA